What is NGO in Hindi & How to start an NGO |एनजीओ क्या हैं?

 What is NGO in Hindi & How to start an NGO |एनजीओ क्या हैं?

What is NGO in Hindi: NGO का फुल फार्म है ? NGO का मुख्य मकसद क्या ? NGO कैसे काम करता है ? हम NGO कैसे सुरु कर सकते हैं ? हम NGO कैसे ज्वाइन कर सकते हैं ? NGO को रजिस्टर कैसे करे ? NGO के कुछ  उदाहरण - - इसी तरीके के सवाल के जवाब आपको इस आट्रिकल मे मिलेंगे । सभी सवालो को हम विस्तार से उत्तर देने की कोशिश करेंगे । 





Full Form of NGO: एनजीओ का फुल फॉर्म


NGO का फुल फार्म या विस्तारित रूप है Non Government Organization या गैर सरकारी संगठन . फुल फार्म सुनते ही आपको यह समझ आ गया होगा कि यह एक ऐसा संगठन है जिसमे सरकार की कोई दखल अंदाजी नहीं होती है। आईए आगे इसके बारे में कुछ विस्तार से समझते हैं ।

What is NGO in hindi: एनजीओ क्या है

NGO(non governmental organization) एक प्राइवेट संस्था है जिसमे सरकार की कोई दखलअंदाजी नही है। हालांकि हम आगे जानेंगे कि NGO को चलाने मे हम सरकार की सहायता ले सकते है। NGO को non-profitable organization भी कहते है कयोकि इसका मकसद कोई लाभ प्राप्त करना  नही है ।

NGO का मुख्य मकसद या उद्देश समाज सेवा है जैसे कि अनाथ बच्चों को खाना देना , उनकी शिक्षा मे सहायता प्रदान करना ,  विधवाओ की मदद इत्यादि । कोई भी व्यक्ति या साफ तौर से व्यक्तियो का समूह NGO चला सकता है। बस NGO चलाने के लिए कुछ नियम फॉलो करने होगे, आगे हम उन नियमों को भी जानेंगे । 

Purpose of NGO:एनजीओ का उद्देश्य

जैसा कि हमने ऊपर जाना की NGO का उद्देश्य समाज कल्याण और समाज सेवा है । किसी भी प्रकार का लाभ प्राप्त करना इसका उद्देश्य नहीं । समाज सेवा से जुड़े सभी कार्य NGO के उद्देश्य के अंतर्गत हो सकते हैं । जिनमें से कुछ नीचे दिए गए हैं -
  • लोगों की मदद करना
  • पीड़ितों की सहायता करना
  • अनाथ बच्चों की मदद जैसे कि उनकी खाने-पीने और शिक्षा का इंतजाम
  • विधवा स्त्रियों की सहायता करना
  • वृद्ध लोगों की मदद करना
  • बेरोजगारों के लिए रोजगार का इंतजाम करना
  • शारीरिक रूप से विकलांग लोगों की मदद करना इत्यादि इत्यादि ।

Examples of Some Popular NGOs of India:(भारत के कुछ मुख्य एनजीओज़)

NANHI KALI: 

About NGO in hindi


  Nanhi Kali(नन्ही कली) प्रोजेक्ट 1996 मे स्थापित हुआ था । 
K. C. Anand Mahindra द्वारा महिंद्रा एजुकेशनल ट्रस्ट भारत में अंडरप्रिविलेज्ड लड़कियों की शिक्षा के उद्देश्य से शुरू किया गया।


CARE INDIA FOUNDATION:

NGO in hindi


  Care India foundation 1990 मे शुरू हुआ था और 1995 मे ऑफिसयली रजिस्टर हुआ था।
इसका उद्देश्य पीड़ितो की मदद और इलाज है तथा भारत से गरीबी दूर करना है।

GOONJ:

NGO kya hai


  GOONJ प्रोजेक्ट 1999 मे अंशु गुप्ता के द्वारा शुरू हुआ तथा इसका  उद्देश्य प्राकृतिक आपदा से पीडित लोगो की मदद करना तथा पानी और जरूरत की चीजो की व्यवस्था करना है |

HELP AGE INDIA:

What is NGO in hindi


  Help Age India की शुरूआत 1978 मे हुई तथा इसका मुख्य उद्देश्य वृद्धय लोगों की सहायता करना है।

 How NGO works: एनजीओ कार्य कैसे करता है

सबसे पहले तो यह जानना जरूरी है कि NGO को किसी एक व्यक्ति द्वारा नहीं बल्कि कम से कम 7 या उससे ज्यादा व्यक्तियों का समूह चला सकता है । कोई भी व्यक्तियों का समूह जिसकी समाज सेवा का वह अपने NGO को शुरू कर सकता है । NGO को चलाने मे मुख्य रूप से राशी दान से प्राप्त होती है। किसी भी NGO को सरकारी रूप से रजिस्टर कर सकते हैं ताकि सरकरिक रूप से भी सहायता प्राप्त कर सके ।
NGO in hindi


How To Join NGO: एनजीओ से कैसे जुड़े 

अगर हम एनजीओ से जुड़ने की बात करे तो दो पहलू मे हम बात करेंगे -

पहला तो, हम एक सदस्य के रूप मे NGO से जुड़ सकते है ।

दूसरा,  हम खुद का NGO शुरू कर सकते हैं ।

आइऐ हम विस्तार से दोनों को समझते है।

How to Join NGO As a Member: NGO का सदस्य कैसे बने

अगर आप मे समाज सेवा की भावना है और आप NGO से जुड़ना चाहते है तो आपको सबसे पहले अपने आस पास मे NGO search करना चाहिए । अगर अपने BSW या MSW का कोर्स किया हुआ है तो आप internship  के लिए NGO को ज्वाइन कर सकते है। 

ज्यादातर एनजीओज़ की वैबसाइट होती है जिनके द्वारा भी आप एनजीओ से जुड़ सकते हो । एनजीओ से जुड़ने के लिए आपको उस एनजीओ की ऑफिशियल वेबसाइट में जाना होगा । ध्यान रखे की वह वेबसाइट फेक नहीं हैं पूरी तरह से सुनिशचित करने के बाद ही अपनी इंफॉर्मेशन डाले।

आपको उस वेबसाइट में अलग अलग ऑप्शन मिलेंगे जैसे 
Donate, Become member, Get involved, internship etc.
आपको Internship के ऑप्शन पर क्लिक करना है फिट अपनी कुछ डिटेल्स दल कर अप्लाई करें इस तरह से आप एनजीओ में रिजिस्टर कर सकते है । 

फिर आपको Email या Message द्वारा सूचित कर दिया जाएगा

How to Start NGO : खुद का एनजीओ कैसे शुरू करे 

खुद का NGO शुरू करने के लिए आपको सबसे पहले एक फील्ड चुन्नी होगी यानी आप किस प्रकार की सामाजिक कल्याण के लिए शुरू करना चाहते हैं ।

अपना खुद का NGO शुरू करने के लिए कम से कम सात सदस्यों की जरूरत होती है । सरकार को तरफ से सहायता पाने के लिए आपको अपने एनजीओ को सरकारी तौर पर रजिस्टर करना होगा । आइए जानते है कि हम किस तरह से एनजीओ को रजिस्टर कर सकते है । 

How to Resister NGO :

NGO रिजिस्टर करने के लिए कुछ documents की जरूरत पड़ती है जैसे कि - Trust deed, memorandum of association rules ans regulations, memorandum articles of association regulations, Id proof, residence proof.

एनजीओ को रजिस्टर करने के कई फायदे हैं जिनमें से मुक्त फायदा है सरकारी तौर पर आर्थिक सहायता मिलना आप एनजीओ को तीन acts के अंतर्गत register करा सकते है।

  • Trust act
  • Society act
  • Companies act

तो  यहा पर आप जाना कि NGO Kya hai, how ngo work और NGO से जुड़े कई सारे सवालो के जवाब । आशा है आपको यह पोस्ट पसंद आई होगी इसे अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करें और अपनी राय कमेंट बॉक्स में बताना ना भूलें पढ़ने के लिए धन्यवाद ऐसे ही कई आर्टिकल हमारी वेबसाइट में हैं उन्हें भी जरूर पढ़ें !!

Post a Comment

0 Comments